सांस्कृतिक / गणगौर माता की नहीं निकली सवारी

Heera Lal Bhoorani

2020-03-29 10:02:38am IST

गणगौर माता की नहीं निकली सवारी, पीपल के पेड़ पर किया विसर्जन । एंकर हीरालाल भूरानी गणगौर का पर्व कोरोनावायरस के चलते फीका रहा, फिर भी महिलाओं ने इसे श्रध्दा के साथ मनाया। सोलह दिन में ईसर गणगौर की पूजा अर्चना की और व्रत रखा।हर वर्ष गणगौर माता की सवारी निकाली जाती है, लेकिन इस बार कोरोनावायरस के चलते शहर के बाजारों में शुक्रवार को सवारी नहीं निकाली गई। केवल औपचारिक रूप से पांच महिलाओं की ओर से हरसोली रोड स्थित ज्ञानानंद आश्रम में पीपल के पेड़ पर मूर्तियों को विसर्जित कर दिया गया। इस कार्यक्रम में पुष्करणा समाज बढ़ चढ़कर हिस्सा लेता है। इस बार महेश कुमार पुत्र भंवर लाल के घर पर रात्रि में ईसर पार्वती का विवाह कराया गया और शुक्रवार को माता की झांकी सजाकर उसे पीपल के पेड़ पर विसर्जित किया गया। इस पर्व पर पूरे समाज का भोज का आयोजन किया जाता है, लेकिन लाकडाउन के चलते स्थानिय प्रशासन ने अनुमति प्रदान नहीं की।पन्द्रह दिनों तक संगीत व मनोरंजन के होने वाले कार्यक्रम नहीं होने से इस पर्व को सादगी पूर्वक मनाया गया।

LIKE - 0    VIEWS - 5    COMMENT - 0    SHARE - 0